Numerology

Numerology

⚜ अंक ज्योतिष ⚜

अंकशास्त्र विद्या ( Hindi Numerology) में अंकों का विशेष स्थान होता है। अंकशास्त्र में हर व्यक्ति का एक अंक मुख अंक होता है जिसे अंक स्वामी बोलते हैं और इसी अंक स्वामी के द्वारा आपके भाग्य का आंकलन किया जाता है। आपके करियर, व्यवसाय, नौकरी, प्रेम और आपके जीवन की हर छोटी व बड़ी बात को, यह आपका स्वामी अंक आपके लिए तय करता है। अंकज्योतिष(Numerology in Hindi) अंकों की सहायता से भविष्यवाणी करने का विज्ञान है। अंकज्योतिष के माध्यम से मनुष्य की भविष्य जानने की मूलभूत इच्छा की पूर्ति होती है।

अंकज्योतिष में गणित के नियमों का व्यवहारिक उपयोग करके मनुष्य के अस्तित्व के विभिन्न पहलुओं पर नजर डाली जा सकती है।.

वास्तव में अंकज्योतिष में नौ ग्रहों सूर्य, चन्द्र, गुरू, यूरेनस, बुध, शुक्र, वरूण, शनि और मंगल की विशेषताओं के आधार पर गणना की जाती है। इन में से प्रत्येक ग्रह के लिए 1 से लेकर 9 तक कोई एक अंक निर्धारित किया गया है, जो कि इस बात पर निर्भर करता है कि कौन से ग्रह पर किस अंक का असर होता है। ये नौ ग्रह मानव जीवन पर गहरा प्रभाव डालते हैं। जातक के जन्म के समय ग्रहों की जो स्थिति होती है, उसी के अनुसार उस व्यक्ति का व्यक्तित्व निर्धारित हो जाता है। एक प्राथमिक तथा एक द्वितीयक ग्रह प्रत्येक व्यक्ति के जन्म के समय उस पर शासन करता है। इसलिए, जन्म के पश्चात जातक पर उसी अंक का सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है, जो कि जातक का स्वामी होता है। इस व्यक्ति के सभी गुण चाहे वे उसकी सोच, तर्क-शक्ति, भाव, दर्शन, इच्छाएँ, द्वेष, सेहत या कैरियर हो, इस अंक से या इसके संयोग वाले साथी ग्रह से प्रभावित होते हैं। यदि किसी एक व्यक्ति का अंक किसी दूसरे व्यक्ति के अंक के साथ मेल खा रहा हो तो दोनों व्यक्तियों के बीच अच्छा ताल-मेल बनता है।

अंक ज्योतिष एक ऐसा विज्ञान है जिसके माध्यम से अंकों के अंदर निहित शक्ति व मानव जीवन पर उसके प्रभाव को देखा जा सकता है। प्रत्येक अंक किसी न किसी ग्रह से जुड़ा है जिससे उस ग्रह की पोजीटिव व नेगेटिव ऊर्जा उसे प्रभावित करती है। यही कारण है कि अंकों के माध्यम से हम व्यक्ति विशेष की खूबियों के बारे में जान सकते हैं। इन्हीं अंकों के आकलन के जरिये हमें यह भी जान सकते हैं कि भविष्य में हमें किस तरह की बाधाओं का सामना करना पड़ेगा? जाहिर सी बात है कोई भी समस्या तभी तक बड़ी नज़र आती है जब उस समस्या की जड़ का हमें पता न चले। समस्या का पता चलने पर उसके समाधान का तरीका भी खोज ही लिया जाता है। लव, करियर, हेल्थ, फाइनेंस अपनी लाइफ के प्रत्येक पहलू के बारे में अंक ज्योतिष के माध्यम से जाना जा सकता है।

अभी तक तो हमने बहुत सारी बातें जान ली अंक ज्योतिष के बारे में अब बात करें की आखिर में हमको अपना अंक ज्योतिष के अनुसार अपने भविष्यफल का आकलन करने के लिए मूलांक कैसे मालूम पड़ेगा इसके लिए उदहारण है की आप मान लीजिये आपका जन्म 3 जनवरी को हुआ है तो आपका अंक 3 है। यानि आपका का सार्वभौमिक अंक हुआ 3। अंक तीन देवगुरु बृहस्पति का अंक है। बृहस्पति ज्योतिषशास्त्र के अनुसार तो महत्वपूर्ण ग्रह हैं ही साथ ही अंकज्योतिष में भी इनका बहुत अधिक महत्व माना जाता है। इन्हें ज्ञान व बुद्धि का कारक भी कहते हैं। ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि गुरु ग्रह के प्रभाव से आप एक ज्ञान अर्जित करने वाले रहेंगे, आय के नये स्त्रोत आपको मिलते रहेंगे। कुल मिलाकर आप के जीवन की हर प्रकार से खुशियाँ बनी रहेंगी । भविष्य के प्रति आपका नज़रिया भी आशावादी बने रहने की उम्मीद की जा सकती है। ऐसे ही 1 से लेकर 9 तारीख के मध्य में जिन जातकों का जन्म हुआ है तो उनकी जन्म की तारीख ही उनका मूलांक होगा और यदि जन्मतिथि दो अंकों में है जैसे कि 11 जनवरी, तो ऐसे में आप जन्मतिथि के दोनों अंकों का योग करके अपना मूलांक जान सकते हैं। 1+1 यानि 11 जनवरी को जन्म लेने वालों के लिये मूलांक 2 होगा।

Note: यहाँ पर नीचे हम आप को 1 से लेकर 9 तक के मूलांक के विवरण दे रहे है जो अपने अंक के स्वामियों के अनुसार आप के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे।

मूलांक 1

मूलांक 1 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 1.10.19 या 28 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 1 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 1.10.19 या 28 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 1 के बारे में। मूलांक 1 का स्वामी ग्रह सूर्य है, और सूर्य को जीवन शक्ति का प्रतीक माना गया है, यदि आपका मूलांक 1 है तो आप आपमें ईमानदारी नामक गुण की अधिकता रहेगी। आप दॄढ़ निश्चयी और श्रृजनशील व्यक्ति होंगे। आपमें नेतृत्त्व करने की उत्तम क्षमता है। लेकिन आप कुछ हद तक हठी और अहंकार से युक्त भी हो सकते हैं। ऐसे में एक सलाह हम आपको देना चाहेंगे …..

Birth Date No. 2

मूलांक 2

मूलांक 2 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 2.11.20 या 29 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 2 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 2.11.20 या 29 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 2 के बारे में। मूलांक 2 का स्वामी ग्रह चन्द्रमा है, और चन्द्रमा को शीघ्रगामी ग्रह माना गया है, मूलांक 2 से संबंधित लोग अत्यंत कल्पनाशील, भावुक, सहृदय और सरलचित्त होते हैं। ये न तो अधिक समय तक एक ही कार्य पर स्थिर रह सकते हैं और न ही लंबे समय तक सोच सकते हैं। इनमें रचनात्मकता कूट-कूट कर भरी होती है। ये जन्मजात कलाकार होते हैं। सदी के…..

Birth Date No. 3

मूलांक 3

मूलांक 3 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 3.12.21 या 30 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 3 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 3.12.21 या 30 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 3 के बारे में। मूलांक 3 का स्वामी ग्रह बृहस्पति है, जो सभी ग्रहों के गुरु हैं। मूलांक 3 वाले व्यक्ति बड़े स्वाभिमानी होते हैं। किसी के आगे झुकना इन्हें पसंद नहीं होता। ये किसी का एहसान नहीं लेना चाहते हैं। इन्हें किसी का बेवह हस्तक्षेप पसंद नहीं है। इन्हें अपनी स्वतंत्रता से समझौता करना पसंद नहीं होता। इस मूलांक वाले व्यक्ति साहसी, वीर, शक्तिशाली…..

Birth Date No. 4

मूलांक 4

मूलांक 4 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 4.13.22 या 31 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 4 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 4.13.22 या 31 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 4 के बारे में। मूलांक 4 का स्वामी ग्रह राहु है। कुछ अंकशास्त्री इसे यूरेनस या नकारात्मक सूर्य का अंक मानते हैं लेकिन हम इस राहु का अंक मानते हैं। मूलांक ४ वाले महान क्रांतिकारी, वैज्ञानिक या राजनीतिज्ञ हो सकते है लेकिन इस अंक वालों को घमंडी, उपद्रवी, अहंकारी और हठी के रूप में भी देखा गया है। लेकिन ये साहसी व्यवहार कुशल और चकित कर देने वाले कामों …..

Birth Date No. 5

मूलांक 5

मूलांक 5 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 5.14 या 23 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 5 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 5.14 या 23 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 5 के बारे में। मूलांक 5 का स्वामी ग्रह बुध है जो ज्ञान एवं बुद्धि का प्रतीक हैं अत: मूलांक 5 वाले व्यक्तियों का बुद्धिमान होना स्वाभाविक है साथ ही इस मूलांक के व्यक्ति साहसी तथा कर्मशील होते हैं। ये चुनौतियों को चेलेंज के रूप में स्वीकार करते है और उनसे लड़कर विजय भी प्राप्त करते हैं। राजनेता, बाल गंगाधर तिलक, जवाहर लाल नेहरू, अर्जुन सिंह, मुरली मनोहर जोशी …..

Birth Date No. 6

मूलांक 6

मूलांक 6 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 6.15 या 24 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 6 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 6.15 या 24 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 6 के बारे में। मूलांक 6 का स्वामी ग्रह शुक्र है जो प्रेम एवं शान्ति का प्रतीक है। अत: मूलांक 6 वाले व्यक्ति सुगठित शरीर वाले होते हैं। ये देखने में सुंदर एवं प्रभावशाली होते हैं। मूलांक ६ वाली स्त्रियां बहुत सुंदर होती हैं। इन्हें बुढ़ापा देर से आता है। ये कलाप्रेमी होते हैं और इनमें सौंदर्य के प्रति आकर्षण होता है। इनमें सुरुचिपूर्ण एवं सलीकेदार कपड़े पहनने एवं बन-ठनकर रहने ……

Birth Date No. 7

मूलांक 7

मूलांक 7 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 7.16 या 25 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 7 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 7.16 या 25 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 7 के बारे में। मूलांक 7 का स्वामी ग्रह केतु है कई विद्वान इसे नेपच्यून (वरुण) ग्रह का अंक तो कुछ इसे चंद्रमा का अंक भी मानते हैं मूलांक 7 वाले व्यक्ति मौलिकता, स्वतंत्र विचार-शक्ति तथा असामान्य व्यक्तित्व के मालिक होते हैं. ये शांत चित्त नहीं बैठ पाते सदैव कुछ न कुछ सोचते रहते हैं, ये सदैव बदलाव और यात्रा के लिए उत्सुक रहते हैं. क्षत्रपति शिवाजी का मूलांक 7 ही था। …..

Birth Date No. 8

मूलांक 8

मूलांक 8 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 8.17 या 26 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 8 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 8.17 या 26 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 8 के बारे में। मूलांक 8 का स्वामी ग्रह शनि हैं. इस मूलांक के व्यक्ति प्रायः अन्तर्मुखी प्रवृति के होते है, ये लोग प्रचार-प्रसार से दूर एकनिष्ठ होकर अपने कामो में लगेरहते हैं, ये हर बात को गंभीरता से सोचते हैं. ये शांत, गंभीर व निश्छल प्रवृति वाले होते हैं. डा. मनमोहन सिंह इसी मूलांक के हैं। शनि अन्तरिक्ष में धीरे धीरे आगे बढ़्ने वाला ग्रह है अत: इस मूलांक वाले लोग भी धीरे धीरे ….

Birth Date No. 9

मूलांक 9

मूलांक 9 आप में से अधिकांश लोगों को मूलांक के बारे में पता ही होगा अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं- जिन व्यक्तिओ का जन्म किसी भी माह की 9.18 या 27 तारीख को हुआ है तो उनका मूलांक 9 होगा। यदि आपका या आपके किसी जानने वाले का जन्म किसी भी माह की 9.18 या 27 तारीख को हुआ है तो आपको हमारा यह लेख पूरा पढ़ना चाहिए!

तो आइए चर्चा करते हैं मूलांक 9 के बारे में। मूलांक 9 का स्वामी ग्रह मंगल हैं. मंगल उत्साह और ऊर्जा का द्योतक ग्रह है अत: मूलांक 9 वाले काफ़ी उत्साही स्वभाव के होते हैं। ये ताकतवर शरीर के होते हैं। आवाज भारी तीखी और ऊंची होती है। ये किसी भी परिस्थिति से निबटने का माद्दा रखते हैं। ये अनुशासन प्रिय और सिद्धांत के पक्के होते हैं। प्रसिद्ध कवि डा. हरिवंश राय बच्चन का मूलांक 9 ही था। इनका जीवन …..